डोभा से बरामद महिला की लाश मामले का खुलासा

डोभा से बरामद महिला की लाश मामले का खुलासा

फोन कॉल पर प्यार, शादी के लिए दबाव बनाने पर महिला की हत्या

बंशीधर न्यूज

पलामू: जिले के नावाबाजार थाना क्षेत्र के अजनिया अहरा के पास डोभा से बरामद महिला के शव मामले का पुलिस ने घटना के 80 दिनों के बाद उदभेदन किया है। महिला की हत्या हुई थी और वह तीन बच्चों की मां थी। तीन बच्चों के पिता (प्रेमी) पर शादी के लिए दबाव बनाने पर महिला की हत्या की गयी थी। बुधवार को रहस्य से पर्दा उठाते हुए थाना प्रभारी चिंटू कुमार ने आरोपी खोड़ी निवासी इबरार साह को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया।

थाना प्रभारी के अनुसार 22 मार्च को महिला का शव अजनिया अहरा के पास डोभा से बरामद किया गया था। मृत महिला सोहदाग इलाके की रहने वाली थी। पुलिस ने केस के तकनीकी अनुसंधान में पाया कि महिला की हत्या प्रेम प्रसंग में की गयी थी। इसी थाना क्षेत्र के खोड़ी निवासी इबरार साह का उस महिला से प्रेम प्रसंग चल रहा था।

महिला ने जब शादी के लिए इबरार पर दबाव बनाया तो उसने उसे सिर के बल जमीन पर पटक दिया और जख्मी हालत में उसे डोभा में फेंक दिया, जिससे उसकी मौत हो गयी। पुलिस के अनुसार मृत महिला और हत्या के आरोपी इबरार का प्रेम संबंध फोन कॉल पर बातचीत के क्रम में हुआ था। इबरार ओडिशा में शरिया सेटरिंग का काम करता था। वहीं पर महिला का पति भी इबरार के साथ काम करता था, लेकिन अपने पास मोबाइल नहीं रखता था।

महिला अपने पति से बात करने के लिए इबरार को कॉल करती थी। इसी कॉल के दौरान महिला और इबरार के बीच प्रेस संबंध स्थापित हुआ। महिला इबरार पर परिवार को छोड़कर उससे शादी के लिए दबाव बना रही थी। महिला का कहना था कि मैं अपने परिवार को छोड़ दूंगी और तूंभी अपने परिवार को छोड़कर उससे शादी कर लो।

इबरार महिला की बात से सहमत नहीं था। घटना के दिन दोनों गांव से दूर मिले थे। मुलाकात के दौरान महिला ने शादी का दबाव बनाया तो दोनों के बीच बात बढ गयी। इसी दौरान इबरार ने महिला को सिर के बदल पटक दिया, जिससे महिला जख्मी हो गयी थी। फिर महिला को डोभा में फेंकर इबरारा मौके से फरार हो गया।